James Anderson claims England will continue with its aggressive approach to Tests – साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले जेम्स एंडरसन की हुंकार, कहा

घर में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के पहले मैच से पहले इंग्लैंड के महान तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने कहा कि उनकी टीम खेल के सबसे लंबे प्रारूप के लिए अपने आक्रामक दृष्टिकोण के साथ बनी रहेगी। भले ही चीजें उनके मुताबिक न हों, लेकिन फिर भी अटैकिंग अप्रोच टीम की रहेगी। इंग्लैंड की टीम ने अपने नए मुख्य कोच ब्रेंडन मैकुलम के तहत खेले गए अब तक सभी टेस्ट मैचों में जीत दर्ज की है।  

मैकुलम और कप्तान बेन स्टोक्स ने एक मिसफायरिंग इंग्लिश टीम की कमान संभाली, जिसने अपने पिछले 17 टेस्ट में से सिर्फ एक मैच में जीत हासिल की थी। वहीं, कोच और कप्तान बदलने के बाद इंग्लैंड ने लगातार चार मुकाबले जीते हैं, जिसमें न्यूजीलैंड का सूपड़ा साफ करना और भारत से सीरीज बराबर करना शामिल है। एंडरसन अच्छी तरह से जानते हैं कि इंग्लैंड की टीम इस तरह से खेलते हुए संघर्ष कर सकती है। 

स्काई स्पोर्ट्स ने एंडरसन को कोट किया, “जिस तरह से वह (मार्क बाउचर) और उनकी टीम (दक्षिण अफ्रीका) खेलती है, उनका क्रिकेट खेलने का एक अलग तरीका है। इस समय बेन स्टोक्स और ब्रेंडन मैकुलम को इस बात का अंदाजा है कि हमें कैसी क्रिकेट खेलनी है। इसलिए हम अपने तरीके से खेलने की कोशिश कर रहे हैं और हम इसे पसंद कर रहे हैं। कई बार ऐसा भी हो सकता है, जब चीजें हमारे हिसाब से नहीं चलती हैं, लेकिन मुझे लगता है कि यह तथ्य कि हम इसका आनंद ले रहे हैं और पूरी टीम इसके लिए रोमांचक है।”

इंग्लैंड के सर्वकालिक प्रमुख टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज एंडरसन अभी भी यह दिखाने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं कि वह पिछले महीने 40 साल के होने के बावजूद मैदान पर क्या कर सकते हैं और नए सेटअप से उत्साहित हैं। उन्होंने कहा, “जब स्कोरबोर्ड टिक जाता है, तो आप वास्तव में इस पर बहुत अधिक ध्यान नहीं देते हैं और आप एक बल्लेबाज के रूप में फिर से शुरू करते हैं। मैं 40 साल का हो गया हूं, लेकिन जब आप एक मील का पत्थर हासिल करते हैं तो आप नए की कोशिश करते हैं और खुद को रीसेट करके वापस आते हैं। ठीक यही मेरी मानसिकता है, यह मेरे नाम के आगे सिर्फ एक नंबर है।”

17 अगस्त से लंदन के लॉर्ड्स में होने वाले पहले मैच से पहले जेम्स एंडरसन ने कहा, “मुझे बूढ़ा महसूस नहीं होता या ऐसा नहीं लगता कि मैं धीमा हो रहा हूं या कुछ भी। पिछले कुछ हफ्तों से, मैं कड़ी मेहनत और ट्रेनिंग कर रहा हूं, अपनी गेंदबाजी पर फिर से काम करने की कोशिश कर रहा हूं और उस पर टिके रहने की कोशिश कर रहा हूं, फिर पिछले कुछ दिनों में मैंने शानदार लय में महसूस किया है और उम्मीद है कि मैं मैदान पर यह दिखा सकता हूं।” 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.