Itni Shuddha hindi bol raha hai mere sath Virat Kohli trolled Captain Rohit Sharma After India vs Afghanistan Match Watch Video – इतनी शुद्ध हिंदी बोल रहा है मेरे साथ… विराट कोहली ने किया कप्तान रोहित शर्मा को ट्रोल

सोशल मीडिया पर भले ही विराट कोहली और रोहित शर्मा के फैन्स आपस में भिड़ते रहते हों, लेकिन इन दोनों के मन में एक-दूसरे लिए काफी रिस्पेक्ट है। एशिया कप 2022 में टीम इंडिया ने अपना आखिरी मैच गुरुवार को अफगानिस्तान के खिलाफ खेला, जिसमें विराट कोहली ने नॉटआउट 122 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली और उनके 71वें इंटरनेशनल शतक का इंतजार भी खत्म हो गया। रोहित इस मैच में नहीं खेले और उनकी जगह केएल राहुल ने टीम की कमान संभाली, वहीं केएल के साथ पारी का आगाज विराट ने किया। बीसीसीआई टीवी पर रोहित ने विराट का इंटरव्यू लिया, जिसका वीडियो देखकर आपका दिल भी खुश हो जाएगा।

इसे भी पढ़ेंः AFG के खिलाफ शतक के बाद विराट कोहली को लेकर बदले गौतम गंभीर के सुर

रोहित ने विराट से सबसे पहले पूछा- विराट बहुत-बहुत बधाई। आपका 71वीं सेंचुरी का पूरा भारत इंतजार कर रहा था, और मैं जानता हूं कि आप सबसे ज्यादा इसका इंतजार कर रहे थे। जो टाइम आपने इतने सालों में बिताया है, अपने गेम को खेलते हुए, हमें तो पता ही था कि ये माइलस्टोन होंगे, लेकिन आज की जो पारी थी, वह बिल्कुल खास है क्योंकि हमें जीतकर खत्म करना था। आपने जो इनिंग खेली, उसमें काफी कुछ देखने को मिला, आपने गैप्स अच्छे ढूंढे, शॉट्स अच्छे लगाए, अच्छे बॉलर को टारगेट किया, तो अपनी पारी के बारे में बताइये। कि कैसे शुरुआत हुई और आपने इसे आगे कैसे बढ़ाया?

रोहित की इतनी शुद्ध हिंदी की उम्मीद लग रहा है विराट को भी नहीं थी। विराट ने जवाब देने से पहले ही रोहित को ट्रोल करते हुए कहा, ‘इतनी शुद्ध हिंदी बोल रहा है मेरे साथ आज पहली बार।’ और इतना कहते ही विराट तेज से हंसने लगे।

इसे भी पढ़ेंः कोहली हुए इमोशनल, कहा ‘मेरे 60 रन को फेलियर कहा जा रहा था, जो…’

रोहित ने कहा कि मैंने सोचा था कि मैं हिंदी और इंग्लिश मिक्स करके बोलूंगा, लेकिन हिंदी का अच्छा रिदम मिला, तो मैंने सोचा ऐसे ही चलने दूं। इसके बाद विराट ने अपने जवाब में कहा, ‘रोहित थैंकयू, काफी स्पेशल दिन था हमारे लिए। टीम के तौर पर हमने पिछले मैच के बाद बात की थी कि हम किस एटिट्यूड से खेलेंगे वह हमारे लिए मैटर करेगा, क्योंकि हमारे लिए यह टूर्नामेंट बिल्कुल जरूरी था, हमें नॉकआउट मैचों को एक्सपोजर मिला, प्रेशर का एक्सपोजर मिला, लेकिन हमारा गोल हम सबको पता है कि क्या है, वह है ऑस्ट्रेलिया में होने वाला वर्ल्ड कप और हम उसके लिए सुधार कर रहे हैं। जो हमारे मैच ठीक नहीं हुए, उससे हम सीखेंगे। सिर्फ आज ही नहीं, मैं जब से ब्रेक से आया हूं, मैंने 13-14 साल में पहली बार इतने लंबे समय तक बैट को हाथ नहीं लगाया। तुम लोगों की तरफ से मैनेजमेंट की तरफ से कम्युनिकेशन बिल्कुल साफ था कि मुझे खेलने दो. मुझे लगता है कि वह चीज मेरे लिए बहुत जरूरी थी। तुम सबने मिलकर जो स्पेस मुझे दिया, और इससे मुझे काफी रिलैक्स फील हुआ। हमारे सामने वर्ल्ड कप है और अगर मैं अच्छा खेलूंगा तो मैं टीम को और कॉन्ट्रिब्यूट कर सकता हूं। मैंने राहुल (द्रविड़) भाई से बात की थी कि बैटिंग फर्स्ट होने पर मिडिल के ओवरों में मैं कैसे अपना स्ट्राइक रेट बढ़ा सकता हूं। मेरा बस एक ही प्लान था कि जो-जो चीजें हमें वर्ल्ड कप के प्वॉइंट ऑफ व्यू से सही करनी है, वो मैं एशिया कप में ट्राइ करूंगा।’

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.